한국어 English 日本語 中文 Deutsch हिन्दी Tiếng Việt Português Русский Iniciar sesiónUnirse

Iniciar sesión

¡Bienvenidos!

Gracias por visitar la página web de la Iglesia de Dios Sociedad Misionera Mundial.

Puede entrar para acceder al Área Exclusiva para Miembros de la página web.
Iniciar sesión
ID
Password

¿Olvidó su contraseña? / Unirse

Corea

वर्ष 2019 युवा वयस्कों, छात्रों और बच्चों के शिक्षकों के लिए प्रशिक्षण

  • País | कोरिया
  • Fecha | Noviembre 27, 2019
ⓒ 2019 WATV
27 नवंबर को, ‘वर्ष 2019 युवा वयस्कों, छात्रों और बच्चों के शिक्षकों के लिए प्रशिक्षण’ ओकछन गो एन्ड कम प्रशिक्षण संस्थान में आयोजित किया गया। यह प्रशिक्षण उन शिक्षकों की क्षमता को मजबूत करने के लिए नियमित रूप से आयोजित किया जाता है, जो भविष्य की पीढ़ीयों को प्रेम और विश्वास के साथ शिक्षित करते हैं। इसमें युवा वयस्कों, छात्रों और बच्चों के शिक्षकों और पुरोहित कर्मचारियों सहित 4,000 से अधिक सदस्य भाग लिया।

पहले भाग की आराधना के दौरान, माता ने शिक्षकों के प्रयासों की प्रशंसा की। “युवा वयस्क अब सही विश्वास और अच्छे कार्यों से पूरे संसार का नेतृत्व कर रहे हैं और पूरी पृथ्वी पर परमेश्वर की महिमा फैला रहे हैं, क्योंकि उन्होंने बचपन से परमेश्वर की इच्छा सीख ली है। ऐसा परिणाम इसलिए हुआ कि आपने उनके मन में परमेश्वर की इच्छा को बोया था। आपको उन्हें सिखाने के लिए धीरज रखने और तकलीफ उठाने की जरूरत होती है, लेकिन यह स्वर्ग में आपके लिए बड़े इनाम लाएगा।” यह कहते हुए माता ने उन्हें दिलासा दी। माता ने शिक्षकों को बच्चों, छात्रों और युवा वयस्कों को प्रेम से अच्छी देखभाल करने को कहा, ताकि वे मंदिर की महान सामग्रियां बन जाएं(2तीम 3:15-17, मत 18:2-5, गल 6:7-8)।

प्रधान पादरी किम जू चिअल ने शिक्षकों को उनके मिशन को याद दिलाया और कहा, “वह शिक्षा जो बचपन से युवावस्था तक होती है, व्यक्तित्व के निर्माण पर गहरा प्रभाव डालती है। जब आप युवा आत्माओं को जिनके पास विशाल अंतनिर्हित शक्ति है, सही रास्ते पर ले जाएंगे, तो उज्ज्वल भविष्य सामने आएगा।” और उन्होंने कड़ी मेहनत से युवा आत्माओं को सिखाने के लिए उनके प्रति धन्यवाद भी व्यक्त किया।

ⓒ 2019 WATV
सभा का दूसरा भाग दो कार्यक्रमों में बांटा गया था: एक छात्रों और युवा वयस्कों के शिक्षकों के लिए, और दूसरा बच्चों के शिक्षकों के लिए। छात्रों और युवा वयस्कों के शिक्षकों के कार्यक्रम का शीर्षक भावना कोचिंग था। नकली स्थितियों के माध्यम से, उन्होंने अपने शिक्षण विधियों की जांच की और सीखा कि वे सहानुभूति के साथ कैसे बातचीत करें और छात्रों और युवा वयस्कों को उनकी समस्याओं को सुलझाने की क्षमताओं को बेहतर बनाने में कैसे मदद करें। बच्चों के शिक्षकों ने स्वभाव की विशेषताओं को समझा, जो व्यक्तित्व की नींव बनता है और सीखा कि वे बच्चों को उनके स्वभाव के प्रकारों के अनुसार कैसे सिखाएं। उन्होंने शिक्षण मामलों के बारे में एक आदर्श वीडियो भी देखा, और शिक्षकों के बीच, शिक्षक और बच्चों के बीच और शिक्षक और माता-पिता के बीच संचार के महत्व को समझ लिया।

शिक्षण के बाद, शिक्षकों ने सोचा कि वे नए शिक्षण विधियों का उपयोग कैसे करें। निम्न कक्षा के प्राथमिक स्कूल के छात्रों की शिक्षक, सोंग मिन ग्यंग(गोयांग, कोरिया) ने कहा, “मैं इस बात को लेकर चिंतित थी कि क्या मेरा बच्चों के करीब जाने और उनके साथ संवाद करने का तरीका सही है या नहीं। आज, मेरी चिंता पूरी तरह से दूर हो गई है। पहले, मुझे समझ में नहीं आया कि उन्होंने क्यों उस तरह व्यवहार किया, लेकिन अब मैं समझती हूं। जैसा मैंने सीखा है, मैं उनके साथ वैसा ही व्यवहार करूंगी। न केवल चर्च में बल्कि घर पर भी, मैं अपने बच्चों को समझने वाली मां बनूंगी।”

युवा वयस्कों की शिक्षक, जांग है जंग(इनचॉन, कोरिया) ने कहा, “मैं युवा वयस्कों के साथ अच्छी तरह से संवाद करना चाहती थी, लेकिन मेरे लिए यह मुश्किल था। मैं सिर्फ उनके व्यवहार पर ध्यान देते हुए उनकी भावनाओं को समझने में विफल रही थी। अब से, मैं उनकी भावनाओं पर अधिक ध्यान दूंगी और एक मां के समान उनके साथ सहानुभूति रखने की कोशिश करूंगी।”

Vídeo de Presentación de la Iglesia
CLOSE
Diarios
Iglesia de Dios Soc. Misionera Mundial “Juntos venzamos al Covid-19” entrega cajas de alimentos a Regimiento N° 21 Coquimbo
Internet
Iglesia de Dios Sociedad Misionera Mundial entrega apoyo al Regimiento N.º 21 Coquimbo
Internet
Iglesia realiza una colecta de alimentos para ayudar a las familias